प्रकाश झाप्रकाश झा व अमिताभ बच्चन

प्रकाश झा: एक कलाकार से लेकर राजनीतिक और सामाजिक क्षेत्र में दिखते हैं अद्वितीय

प्रकाश झा
प्रकाश झा

Introduction:

प्रकाश झा, जन्म: 27 फरवरी 1952, भारतीय फिल्म निर्माता, अभिनेता, निर्देशक और लेखक हैं, जो अपनी राजनीतिक और सामाजिक फिल्मों के लिए अधिकतर पहचाने जाते हैं। इस ब्लॉग में, हम उनके जीवन, शिक्षा, करियर, राजनीतिक यात्रा और सामाजिक पहलुओं को समझेंगे।

Early Life and Education:

प्रकाश झा का जन्म बिहार के वेस्ट चंपारन में हुआ था, और उन्होंने अपने परिवार के खेतों में अपने बचपन को बिताया। उनके शिक्षा का आरंभ Sainik School Tilaya, Koderma district से हुआ था, जिसके बाद उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय के Ramjas College में भौतिकी में BSc (Hons) किया। हालांकि, एक वर्ष के बाद उन्होंने अपने अध्ययनों को छोड़ दिया और मुंबई जाकर एक पेंटर बनने का निर्णय लिया।

प्रकाश झा
प्रकाश झा

 

Filmmaking Journey:

प्रकाश झा ने 1973 में Film and Television Institute of India (FTII), Pune में एडिटिंग का कोर्स करने के लिए शामिल होते हुए फिल्म निर्देशन का मार्ग अपनाया। लेकिन इस कोर्स को पूरा करने की बजाय, उन्होंने बॉम्बे आकर काम करना शुरू किया और कभी भी इसे पूरा करने का निर्णय नहीं किया।

Personal Life:

प्रकाश झा का व्यक्तिगत जीवन उनकी विदेशी पत्नी दीप्ति नवाल के साथ एक सुतनु बेटी दिशा झा के साथ है।

Filmmaking Career:

उन्होंने 1975 में अपनी पहली डॉक्यूमेंट्री ‘Under the Blue’ बनाई, और इसके बाद आठ वर्षों तक इसी दिशा में कार्य किया। इस दौरान, उन्होंने बिहार शरीफ दंगल की एक डॉक्यूमेंट्री बनाई, जिसका शीर्षक था ‘Faces After Storm’ (1984)। इसे बन्द कर दिया गया, लेकिन बाद में इसे 1984 के राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार में सर्वश्रेष्ठ गैर-फीचर फिल्म के लिए चुना गया।

प्रकाश झा
प्रकाश झा व अमिताभ बच्चन

लेखन में विशेषज्ञ:

प्रकाश झा ने गुलजार द्वारा लिखित ‘Hip Hip Hurray’ (1984), ‘Damul’ (1984), ‘Gangaajal’ (2003), ‘Raajneeti’ (2010), और ‘Aarakshan’ (2011) जैसी फिल्मों के लिए जाने जाते हैं। उनके द्वारा निर्देशित ‘Raajneeti’ ने महाभारत को एक समकालीन रूप में प्रस्तुत किया और इसमें अजय देवगन, मनोज बाजपेयी, कटरीना कैफ, आरजुन रामपाल, नाना पाटेकर और रणबीर कपूर जैसे अभिनेताओं को समाहित किया।

विशाल आदित्य सिंह: हिंदी टेलीविज़न के चमकते सितारे का जीवन

Political Journey:

प्रकाश झा ने 2004 में अपनी जन्मभूमि बेतिया से 14वें लोकसभा चुनाव में प्रतिष्ठान खोया, लेकिन उन्होंने सामान्यत: छठे स्थान पर रहकर केवल 26,000 वोट हासिल किए। उन्होंने 2009 में पश्चिम चंपारण से Lok Janshakti Party (LJP) के उम्मीदवार के रूप में 15वें लोकसभा चुनाव में भी हार का सामना किया। 2014 में उन्होंने Paschim Champaran से Janata Dal (United) के उम्मीदवार के रूप में 16वें लोकसभा चुनाव में भी हार का सामना किया।

Social Initiatives:

पिछले दस सालों से प्रकाश झा बिहार में विकास पहलुओं में सक्रिय रूप से शामिल हैं। उन्होंने Anubhooti नामक एक एनजीओ के रूप में सामाजिक विकास, स्वास्थ्य सेवा, आपदा प्रबंधन और किसानों और सामाजिक रूप से पिछड़े लोगों के सुधार के लिए काम किया है।

प्रकाश झा
प्रकाश झा व मनोज बाजपेयी

पुरस्कार

राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार

  • 1984: सर्वश्रेष्ठ गैर-फीचर फिल्म के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार: ‘Faces After The Storm’ (1984)
  • 1985: सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार: ‘Damul’ (1985)
  • 1987: सर्वश्रेष्ठ कला/सांस्कृतिक फिल्म के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार: ‘Kudiattam’
  • 1988: सर्वश्रेष्ठ कॉस्ट्यूम डिज़ाइन के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार: ‘Parinati’
  • 1988: सर्वश्रेष्ठ औद्योगिक डॉक्यूमेंट्री के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार: ‘Looking Back’
  • 2002: सर्वश्रेष्ठ गैर-फीचर फिल्म के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार: ‘Sonal’
  • 2004: अन्य सामाजिक मुद्दों पर सर्वश्रेष्ठ फिल्म के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार: ‘Gangaajal’ (2003)
  • 2006: सर्वश्रेष्ठ स्क्रीनप्ले के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार: ‘Apaharan’ (2005)

फिल्मफेयर पुरस्कार

  • 2001: वर्ष की सर्वश्रेष्ठ डॉक्यूमेंटरी: ‘Faces After The Storm’ (1983)
  • 1985: फिल्मफेयर क्रिटिक्स अवॉर्ड फॉर सर्वश्रेष्ठ मूवी: ‘Damul’ (1985)
  • 2006: फिल्मफेयर बेस्ट डायलॉग अवॉर्ड: ‘Apaharan’ (2005)

स्टार स्क्रीन पुरस्कार

  • 2005: स्टार स्क्रीन बेस्ट स्क्रीनप्ले अवॉर्ड: ‘Apaharan’
  • 2011: स्टार स्क्रीन बेस्ट स्क्रीनप्ले अवॉर्ड: ‘Raajneeti’

इस प्रकार, प्रकाश झा एक ऐसे कलाकार हैं जो न केवल फिल्म इंडस्ट्री में अपनी पहचान बना चुके हैं बल्कि सामाजिक सेवाओं में भी अपने सक्रिय योगदान के लिए पहचाने जाते हैं।

सोर्स: विकिपीडिया

One thought on “प्रकाश झा: एक दृष्टि में फिल्म और सामाजिक सेवा का संगम”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *